Home / बुन्देलखण्ड / उत्तर प्रदेश / झांसी / यहां चला अतिक्रमण पर सयुक्त डंडा

यहां चला अतिक्रमण पर सयुक्त डंडा

समथर (झांसी):- शासन प्रशासन की दिशा निर्देश के तहत कस्बा समथर के बाजार वाले हिस्से में चला नगर पालिका और पुलिस प्रशासन का डंडा अभियान में अस्थाई सड़क पर रखेंगे डिब्बे व अतिक्रमण हटवाया गया हैं जबकि बताया जा रहा है कि नगर पालिका के द्वारा 4 दिन पूर्व में माईक से मुनादी कर सूचना दी गई थी

पूरा मामला

समथर कस्बा में आज नगर पालिका और पुलिस प्रशासन के द्वारा संयुक्त अभियान चलाया है जिसमें अस्थायी रूप से सड़क पर किया गया अतिक्रमण हटवाया गया है जबकि समथर नगर पालिका के द्वारा 4 दिन पूर्व में स्थानीय दुकानदारों को माईक से मुनादी कर सूचना दी गई थी कि26अप्रेल18को दिन गरुवार से बाजार की सड़कों पर अस्थायी रूप से रखें लकड़ियों के तख्तियां बड़े तखते लोहे की जालिया डाल कर सड़क मार्ग अवरुद्ध कर रहे हैं वह दुकानदार स्वंय ही हटा लें नहीं हटाया तो नगर पालिका के द्वारा हटा दिया जायेगा और कार्यवाही की जायेगी इसी क्रम में आज नगर पालिका प्रशासन द्वारा सड़क पर नाली के बाहर रखा सभी तरह के सामान व दुकान के बाहर निकलता छान छप्पर आदि को अतिक्रमण के दायरे में रख कर पुलिस प्रशासनके सहयोग व सफाई कर्मचारियों के सहयोग से हटवाया एवं दुकानदारों से सात हजार रुपये समन शुक्ल वसूल किया गया है और दुकानदारों को अवगत कराया कि इस तरह का अभियान निरन्तर चलाया जाएगा जिस से आम रास्ता अवरुद्ध नहीं हो औऱ वाहनों को आने जाने में परेशानी का सामना नहीं हो इसके अलावा हाथों ठेला लगाए अग्गा बाजार में कही भी फल विक्रेता अगर ठेला लगाए पाया जाता है तो अर्थदंड के साथ साथ कड़ी वैधानिक कार्यवाही की जायेगी चेतावनी देते हुए कहा कि दुकानदारों को नाली के अंदर सामान रखने की हिदायत दी अतिक्रमण अभियान शान्ति पूर्वक चला

इस अवसर पर यह रहे मौजूद

थाना प्रभारी मनोज कुमार वर्मा कस्बा इंचार्ज राजकुमार यादव नगर पालिका के अधिशासी अधिकारी मोहम्मद कालिम वरिष्ठ लिपिक रामकुमार पलिया अधिष्ठानलिपिक श्री राम शर्मा टैक्स कलैक्टर सेवा राम तिवारी अनिल कुमार नामदेव राजू सविता सुनील कुमार श्रीवास्तव सफाई कर्मचारी द्वारका प्रसाद धरवेंद्र कुमार सहित अन्य कर्मचारी उपस्थित रहे

रिपोर्ट
यशपालसिंह

About time samachar

Check Also

इन्होंने दायित्व निभाया बड़ी जिम्मेदारी से

समथर (झांसी):- आज भी इंसानियत और ईमानदारी व मानवता की झलक समय-समय पर हमें समाज …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *