Home / बुन्देलखण्ड / उत्तर प्रदेश / TIME समाचार की खबर का हुआ असर, भूकंप की फर्जी सूचना फैलाने वाला लेखपाल हुआ सस्पेंट

TIME समाचार की खबर का हुआ असर, भूकंप की फर्जी सूचना फैलाने वाला लेखपाल हुआ सस्पेंट

धीरेन्द्र रायकवार टाइम समाचार ब्यूरो रिपोर्ट झांसी

मोंठ/झाँसी – बीते दिनों 7 अप्रैल को मोंठ नगर लेखपाल द्वारा शराब के नशे में भूकंप की फर्जी सूचना से नगर में हड़कंप मच गया था, जिसकी सूचना आग की तरह फैल गई थी, टाइम समाचार न्यूज़ चैनल के रिपोर्टर ने इस पूरे मामले की गहराई से छानबीन की एवँ भूकंप के संबंध में जानकारी की थी। कि आखिर यह भूकंप की फर्जी सूचना नगर में कैसे फैल गई। जिसपर लोगों से जानकारी करने पर पता चला था कि भूकंप की सूचना Facebook WhatsApp आदि से मिली है, लेकिन लोगों को Facebook, WhatsApp पर कैसे भरोसा हो गया, यह एक बात अचंभित करने वाली थी। जिसपर और भी गहन जांच की। जिसमें आखिर में पता चला कि नगर पंचायत कर्मचारी द्वारा नगर के कुछ लोगों को दी गई थी, जिस पर हमारे रिपोर्टर ने संबंधित नगर पंचायत कर्मचारी से दूरभाष द्वारा बातचीत की तो उन्होंने बताया कि मुझे नगर लेखपाल द्वारा भूकंप की सूचना अग्रेषित करने की बात कही थी। क्योंकि नगर पंचायत कर्मचारी ने सोचा कि लेखपाल एक जिम्मेदार कर्मचारी है, जिस पर उन्होंने अपने अधिकार का निर्वाहन करते हुए कुछ लोगों को सूचना दे दी, लेकिन बाद में पता चला कि लेखपाल द्वारा दी गई सूचना फर्जी है, लेकिन आपको बता दें कि खबर तबतक आग की तरह फैल चुकी थी। तभी अचानक शाम 8:00 बजे के आसपास तेज आंधी आती है, जिसको देखकर लोगों का भरोसा मिली भूकंप की सूचना पर कुछ हद तक भरोसा भी हो जाता है। लेकिन तभी जोरदार बारिश भी होने लगती है। तो लोगों को लगा कहीं न कहीं भूकंप की बात सही है। जिसपर लोग भरी बारिश में घरों से बाहर निकल आए थे। लेकिन तभी इस पूरे मामले की जानकारी करने के लिए हमारे टाइम समाचार के रिपोर्टर ने मोठ तहसीलदार श्रीराम यादव से बातचीत की जिसपर उन्होंने बताया कि नगर लेखपाल द्वारा शराब के नशे में धुत होकर भूकंप की सूचना दे दी। जो पूर्ण रुप से फर्जी है, जिसपर हमारे रिपोर्टर ने जिला अधिकारी शिव सहाय अवस्थी से मामले के संबंध में जानकारी की भूकंप की फर्जी सूचना फैलाने वाले लेेेखपाल के संबंध में जानकारी कि जिसपर उन्होंने कहा कि फर्जी सूचना फैलाने वाले लेखपाल के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाएगी। और टाइम समाचार न्यूज़ चैनल ने इस खबर की सच्चाई प्रमुख्ता से प्रकाशित कि जिसपर लोगों ने टाइम समाचार की खबर पढ़कर भूकंप की मिली फर्जी सूचना से राहत की सांस ली थी। तभी आज सूचना मिली कि लेखपाल को सस्पेंड कर दिया गया है। जिस पर मोंठ उपजिलाधिकारी सुनील कुमार शुक्ला से बातचीत कर इस पूरे मामले के बारे में जानकारी कि जिसपर उन्होंने बताया कि लेखपाल द्वारा फर्जी सूचना फैलाने व टाइम समाचार द्वारा इस पूरे मामले को प्रकाशित करने पर झांसी जिलाधिकारी शिव सहाय अवस्थी ने टाइम समाचार की खबर को गंभीरता से लेते हुए SDM को निर्देशित किया और संबंधित फर्जी सूचना फैलाने वाले लेखपाल को सस्पेंड कर दिया गया।

 

About time samachar

Check Also

यहां चला अतिक्रमण पर सयुक्त डंडा

समथर (झांसी):- शासन प्रशासन की दिशा निर्देश के तहत कस्बा समथर के बाजार वाले हिस्से …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *