Breaking News
Home / बुन्देलखण्ड / उत्तर प्रदेश / अग्रज इण्टर कालेज का एक और फर्जीवाड़ा आया सामने, राजस्व को लगाया गया लाखों का चूना, प्रशासनिक अमला अब भी है मौन

अग्रज इण्टर कालेज का एक और फर्जीवाड़ा आया सामने, राजस्व को लगाया गया लाखों का चूना, प्रशासनिक अमला अब भी है मौन

धीरेन्द्र रायकवार टाइम समाचार ब्यूरो रिपोर्ट झांसी

मोठ/झांसी – बीते दिनों टाइम समाचार न्यूज़ चैनल ने प्रदेश सरकार द्वारा भूमाफियाओं के खिलाफ किए जाने वाले दावों की जमीनी हकीकत दिखाई थी। भूमाफियाओं पर कार्यवाही के नाम पर सिर्फ खानापूर्ति की जा रही है। कुछ ऐसे ही हालात नजर आ रहे हैं यूपी के कुछ ऐसा ही मामला झांसी जिले के तहसील मोठ से सामने आया है। जिसने शासन द्वारा किए गए दावे और वादे व प्रशासनिक अमले द्वारा कार्यवाहियों के नाम पर की जा रहीं खाना पूर्ति की पोल खोलकर रख दी।

झांसी जिले के तहसील मोंठ में स्थित एक प्राइवेट कॉलेज ने सरकारी जमीन पर अवैध कब्जा कर रखा है। जिसकी सच्चाई प्रमुखता से टाइम समाचार न्यूज़ चैनल ने दिखाई थी। जिसमें तहसीलदार व संबंधित नगर पंचायत ने यह तो साबित कर दिया था कि संबंधित विद्यालय द्वारा अवैध कब्जा कर रखा है। अवैध कब्जे का नोटिस भी नगर पंचायत बाबू द्वारा इंटर कॉलेज की प्रवंधिका के नाम दिए जाने की बात कही थी। पूरा मामला प्रशासनिक अमले की जानकारी में होने के बावजूद भी मामले को दिन-प्रतिदिन टालने एवं ठंडे बस्ते में डालने की कोशिश की जा रही है। लेकिन आज लगभग एक पखवाड़ा बीत जाने के बावजूद भी अब तक कोई कार्यवाही नहीं की गई है। आपको बता दें कि टाइम समाचार न्यूज़ चैनल के रिपोर्टर ने और भी गहराई से इस पूरे मामले की तह तक जाने के लिए मामले की लगातार छानबीन करते रहे।

जिसमेंं छानबीन के दौरान कुछ ऐसेे दस्तावेज हाथ लगे हैं। जिन्होंनेे आज फिर एक नया मोड़ ले लिया है। जी हां अभी तक तो हम संबंधित इंटर कॉलेज द्वारा अवैध कब्जे की ही बात कह रहे थे। लेकिन इंटर कॉलेज द्वारा अब एक और फर्जीवाड़ा सामने आया है। जिसमें रजिस्ट्रार कार्यालय द्वारा राजस्व को स्टांप चोरी करके लाखों रुपए का चूना लगाया गया है।

जैसा कि हम आपको पूरे मामले की सरल रूप से जानकारी देते हैं, जैसा की आपको बता दें कि नगर मोंठ में ब्लॉक के पीछे एक प्राइवेट इंटर कॉलेज स्थित है। लेकिन आपको बता दें जो जमीन विद्यालय द्वारा खरीदी गई थी, वह जमीन अग्रज सरस्वती शिक्षा मंदिर मोंठ व प्रवंधिका राधा देवी पत्नी दलबीर सिंह निवासी करौसा तहसील अकबरपुर जिला कानपुर देहात के नाम है। जिसकी खसरा संख्या 703 व क्षेत्रफल 0.0490 (हे.) है। जो कि नगर पंचायत मोंठ के अंतर्गत आती है। आबादी क्षेत्र में है, उसके बावजूद भी रजिस्ट्रार कार्यालय के कर्मचारियों क्रेता और विक्रेता की मिलीभगत से स्टांप की चोरी करके लाखों रुपए का चूना लगाया गया। इंटर कॉलेज से तहसील मुख्यालय की दूरी महज चंद कदम पर है। जहाँ पर संबंधित जिम्मेदार आंख बंद व मौन व्रत धारण किए हुए हैं। आखिर क्यों कुछ ऐसे ही सवाल हमारे नगर की जनता के हैं कि आखिर इस पूरे मामले की जानकारी संबंधित अधिकारियों को होने के बावजूद भी भूमाफिया पर कोई कार्यवाही नहीं की गई।

जिसके पूर्ण रूप से अधिकारियों की पुष्टि के अनुसार ही टाइम समाचार न्यूज़ चैनल ने इस पूरे मामले से पर्दा हटा कर मामले की सच्चाई पूरे प्रशासनिक अमले के सामने आईने की तरह साफ कर दिया था। जिससे अवैध कब्जे की खबर चलने के बाद संबंधित अधिकारियों में हड़कंप मच गया था। जिसके बाद टाइम समाचार न्यूज़ चैनल के रिपोर्टर को कुछ लोगों द्वारा खबर न चलाने की सख्त हिदायत भी दी गई थी।जिसपर टाइम समाचार न्यूज़ चैनल ने रिपोर्टर को हिदायत देने की खबर भी प्रमुखता से चलाई थी। जिसपर तहसील मुख्यालय के प्रशासनिक अधिकारी भी हरकत में आए थे। लेकिन आज लगभग एक पखवाड़े बीत जाने के बाद भी मामले को दिन-प्रतिदिन टालमटोल कर ठंडे बस्ते में डालने की कोशिश की जा रही है। अब देखना यह होगा कि प्रशाशनिक अमले द्वारा संबंधित रजिस्ट्रार कार्यालय व क्रेता विक्रेता के खिलाफ राजस्व को लाखों रुपए का चूना लगाने वाले लोगों के खिलाफ क्या कार्रवाई की जाती है या फिर संबंधित वर्तमान शासन द्वारा भूमाफिया के खिलाफ किए गए दावो एवं निर्देशों पर सिर्फ कागजी कार्रवाई दिखाई जाएगी।

जब आज फिर इस पूरे मामले पर मोंठ SDM सुनील कुमार शुक्ला से बातचीत करनी चाही तो उन्होंने बताया कि नगर हो या फिर ग्रामीण क्षेत्र अवैध कब्जा करने वाले लोगों खिलाफ विधिक दंडात्मक कार्यवाही की जाएगी। इस पूरे मामले पर नगर के लोगों को मोंठ SDM द्वारा कार्यवाही किए जाने का इंतजार है।

About time samachar

Check Also

महिला मंडल द्वारा प्रमाण पत्रों का किया गया वितरण

धीरेन्द्र रायकवार टाइम समाचार ब्यूरो रिपोर्ट झांसी मोठ/झांसी – मोंठ ब्लॉक के ग्राम अमरौख में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *