Home / बुन्देलखण्ड / उत्तर प्रदेश / झांसी / स्वास्थ विभाग की हालत राम भरोसे ,बमनुआं स्वास्थ उप केन्द्र जर्जर हालत में|TIME SAMACHAR|

स्वास्थ विभाग की हालत राम भरोसे ,बमनुआं स्वास्थ उप केन्द्र जर्जर हालत में|TIME SAMACHAR|

झाँसी,टहरौली।  सूबे की योगी सरकार एक ओर तो गरीब एवं जरूरतमंदों की तरक्की और खुशहाली के लिये तमाम प्रयास कर रही है, वहीँ दूसरी ओर प्रदेश के भ्रष्ट अधिकारी एवं उदासीन अधिकारी प्रदेश की योगी सरकार के इस मंसूबे को पलीता मारते नजर आ रहे हैं।सरकार की तमाम योजनायें इन अधिकारियों की उदासीनता की भेंट चढ़ रही हैं।ताजा मामला ग्राम बमनुआं, टहरौली के स्वास्थ्य उप केन्द्र का सामने आया है, यहाँ कर्मचारियों एवं अधिकारियों के भ्रष्टाचार की भेंट यहाँ का स्वास्थ्य उप केन्द्र चढ़ गया है।यहाँ गन्दगी का अम्बार पड़ा हुआ है , स्वास्थ्य केन्द्र के अन्दर सभी कमरों, किचिन, शौचालय एवं बरामदे में चारों ओर गोबर, गन्दगी, ताश के पत्ते, शराब की बोतलें एवं अन्य आपत्तिजनक सामग्री पायी गयीं , स्वास्थ्य केन्द्र के अन्दर गन्दगी का भीषण अम्बार था ,सभी दीवालों पर गुटके की पीको के निशान बने हुये थे।
ग्राम वासियों ने क्यों ए.एन.एम. पर आरोप 
ग्राम बमनुआं, ब्लाक चिरगांव, तहसील टहरौली के निवासियों ने बताया कि गाँव में बने इस स्वास्थ्य उप केन्द्र में एक ए.एन.एम. पदस्थ हैं, जबकि इस स्वास्थ्य केन्द्र पर चार आशा कार्यकर्तायें कार्यरत हैं, उप स्वास्थ्य केन्द्र में पदस्थ सभी कर्मचारी न तो कभी आतीं हैं और न ही कभी लोगों की समस्यायें सुनती हैं , ग्रामीणों ने इन कर्मचारियों के ऊपर गम्भीर आरोप जड़े ,ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि यहाँ पदस्थ ए.एन.एम. हमेशा ही नदारद रहती हैं , बमनुआं के विष्णुकान्त तिवारी, बृजेश कुशवाहा, सूरज भान पाठक, रामराजा यादव आदि ग्रामीणों ने यहाँ पदस्थ ए.एन.एम. मीना गुप्ता यहाँ कई महीनों में एक बार आती हैं और झाँसी मुख्यालय पर ही निवास करती हैं।ग्रामीणों द्वारा उप स्वास्थ्य केन्द्र, बमनुआं में पदस्थ ए.एन.एम. श्रीमती मीना गुप्ता पर अत्यन्त गम्भीर आरोप लगाये , ग्रामीणों द्वारा श्रीमती मीना गुप्ता पर आरोप लगाये गये कि वह यहाँ आने वाली सभी आयरन की गोलियां, महिलाओं की प्रेग्नेन्सी की किट एवं अन्य दबायें बाहर के मेडिकल स्टोर्स पर बेच दीं जाती हैं, और यहाँ आने वाली महिलाओं को यह दबायें नहीं दी जाती हैं।
अधिकारियों की बेशर्मी का आलम देखिये कि यह उप स्वास्थ्य केन्द्र टहरौली तहसील से मात्र 500 मीटर की दूरी पर ही स्थित है।सभी अधिकारी मौन हैं और अपनी अपनी आँखे बन्द किये हुये हैं।कोई भी बड़ा अधिकारी कुछ बोलने को तैयार नहीं है। यह सब गोलमाल बड़े तहसील स्तरीय अधिकारियों की नाक के नीचे हो रहा है।
स्वास्थ केंद्र के अंदर गन्दगी का अम्बार
जब इस विषय में बमनुआं की ग्राम प्रधान श्रीमती गीता देवी कुशवाहा से बात की गयी तो उन्होंने अपनी तबियत खराब होने की बात कह कर कुछ भी बोलने से इंकार कर दिया, जब इस विषय में ग्राम प्रधान पति / ग्राम प्रधान प्रतिनिधि से बात की गयी तो उन्होंने भी कोई साफ़ साफ़ उत्तर देने में रूचि नहीं दिखाई और बोले की गाँव के उप स्वास्थ्य केन्द्र में साफ़ सफाई तो होती ही है पर लोग यहाँ आ कर गन्दगी कर जाते हैं। जब उनसे पूछा गया कि आपके गाँव में कितनी आशा कार्यकर्तायें पदस्थ हैं तो उनका उत्तर था शायद तीन, जबकि आपको बताते चलें कि गाँव में कुल 4 आशा कार्यकर्तायें पदस्थ हैं जिनमें से दो आशाओं की नियुक्ति इनके द्वारा ही की गयी है। विष्णुकान्त तिवारी, बृजेश कुशवाहा, सूरज भान पाठक, रामराजा यादव आदि ग्रामीणों द्वारा आरोप लगाया गया कि यहाँ इस उप स्वास्थ्य केन्द्र पर ए.एन.एम. और आशाओं के न आने के लिये सम्बन्धित अधिकारियों एवं ग्राम प्रधान आदि से डील पर की जाती है।
जब इस विषय में यहाँ पदस्थ ए.एन.एम. से फोन पर बात की गयी तो उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य उप केन्द्र हमेशा खुलता है पर वो पिछले कुछ दिनों से अवकाश पर हैं। पर आशायें आ कर उप स्वास्थ्य केन्द्र खोलती होंगी, ए.एन.एम. मीना गुप्ता ने ग्राम प्रधान पर आरोप लगाया कि उनको कई बार साफ़ सफाई के लिये बोला गया है पर उन्होंने इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया,  ए.एन.एम. मीना गुप्ता ने कहा न तो ग्राम प्रधान कभी मीटिंग में आते हैं और न ही किसी कार्य में सहयोग करते हैं।
बहरहाल मामला कुछ भी हो, यहाँ अधिकारियों की बेशर्मी और कुंभकर्णी निंद्रा सूबे की योगी सरकार के मंसूबो पर पलीता मारती नजर आ रही है। अब देखना यह होगा कि अब सम्बन्धित अधिकारी इस ओर ध्यान देते हैं या पहले की भांति ही अपने निजी स्वार्थ में लिप्त रहते हैं। और इनका खुला खेल फर्रूखाबादी बदस्तूर जारी रहता है।
रिपोर्ट – रीतेश मिश्रा 

About timesamachar

Check Also

यहां चला अतिक्रमण पर सयुक्त डंडा

समथर (झांसी):- शासन प्रशासन की दिशा निर्देश के तहत कस्बा समथर के बाजार वाले हिस्से …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *