Home / Uncategorized / हे राम, कलयुग के भगवान निजी मशीन से दे रहे है भाँप,भाप के बदले लेते हैं,

हे राम, कलयुग के भगवान निजी मशीन से दे रहे है भाँप,भाप के बदले लेते हैं,

समथर/झांसी – जहाँ एक ओर उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा स्वास्थ्य विभाग के लिए लाखों खर्च किया जा रहे हैं, वहीं पर समथर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र समथर के चिकित्साधिकारी के पद पर आए झांसी से डॉक्टर चंदन के द्वारा गरीब लोगों के साथ कमीशन खोरी और अपनी निजी भाँप मशीन से भाँप लगा कर 50 से 100 रुपए लेकर गरीब लोगों को शिकार करने की बात सामने आई है, वहीं आस पास के गाॅव
से आये हुए मरीजों को न तो स्वास्थ्य केंद्र से दवा दी जाती हैं, सर्दी और जुकाम के मरीजों के साथ रूपये लेकर भाँप मशीन से भाँप दी जाती है, और बाहर के मेडिकल स्टोर के लिए दवा का पर्चा लिख दिया जाता हैं।
पूरा मामला——
समथर कस्बा के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का है, जहाँ पर गरीब जनता की जेब काट कर मेडीकल स्टोर से दवा मगबाई जाती है, सर्दी और जुकाम बाले मरीजों को भाँप मशीन से भाँप लेने का चार्ज 50 से 100 रुपए तक मरीजों से बसूला जाता है, जब रूपये लेने की बात सामने आई हैं तो बताया गया है कि डॉक्टर चन्दन निजी (स्वंय) भाँप मशीन साथ में लेकर आते हैं, जब की भाँप मशीन समथर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में है ही नहीं, इसलिए भाँप लेने का चार्ज लिया जाता हैं, यह भी बताया है कि दवा पूरे कस्बा में न मिलकर दवा केवल सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के सामने बाले ही मेडीकल स्टोर पर मिलती है, इस बात से कहीं न कहीं हम नहींं मुुकर सकते कि कहीं न कहीं डॉक्टर कि कमीशनखोरी की शिकार जनता होती नजर आ रही है, जहां पर दवा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र से मिलने चाहिए, वहीं चर्म रोग की दवा डाक्टर के लिखे जाने से मरीज बाहर से लेने जाते है, ग्रामीण क्षेत्रों के मरीजों का यह भी कहना है कि जब डाक्टर से अस्पताल से मरीज दवा मागते है तो डॉक्टर के द्वारा दवा देने से इंकार कर कहा जाता है कि दवा अस्पताल में नहीं है, जहां सरकार के द्वारा स्वास्थ्य के लिए बड़े बड़े बादे किए जा रहे हैं, वही स्वास्थ्य विभाग के नुमाइंदों के द्वारा सरकार के आदेशों की धज्जियां उड़ाई जा रहीं हैं व गरीब जनता को मेडिकल स्टोर पर दवा के लिए भेज कर ग़रीबो की जेब पर डाका डलवाया जा रहा है और कमीशन खोरी का शिकार करवाया जा रहा है, अब देखना होगा कि जिला चिकित्साधिकारी के द्वारा ऐसे चिकित्सकों के साथ क्या कार्यवाही की जाती है या फिर डॉक्टर चन्दन के आगे सभी नतमस्तक हो जायेगे और डॉक्टर चन्दन के द्वारा गरीब लोगों और बच्चों के साथ स्वास्थ्य केंद्र में निजी भाँप मशीन रखकर लोगों और विभाग को चूना लगाने का काम जारी रहेगा, और डॉक्टर धड़ल्लेे से अपनी जेब भरते रहेंगे और अधिकारी मौन वृत्त होकर यह तमाशा देखते रहेंगे।

About time samachar

Check Also

इंटरनेट साथी अर्चना पांचाल, इंटरनेट चलाने के बारे में जानकारी देते हुए

मोठ/झांसी – समर्पण जन कल्याण समिति कोच संस्थान द्वारा इंटरनेट साथी का दो दिवसीय प्रशिक्षण …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *